Gobar Dhan Yojna | गोबर धन योजना

गोबर धन योजना(Gobar Dhan Yojna) मुख्‍य रूप से देश के किसानों से जुड़ी योजना है। इस योजना के अंतर्गत किसान और पशुपालको द्वारा अपने पशुओं के मल एवं खेतो के बेकार घास के उपयोग द्वारा बायोगेस और खाद बनाकर उसे अपनी कमाई का जरिया बना सकते है। इस योजना से स्‍वच्‍छ भारत अभियान को भी योजना फायदा पहुचेगा। दस योजना के द्वारा गोबर का प्रयोग ऊर्पा बनाने के लिए भी किया जा सकता है। बनाई गई ऊर्जा का उपयोग किसान खुद कर सकता है या वह उसे बेच भी सकता है। इस योजना से होने वाले उत्‍पादन के कारण देश के वातावरण को भी फायदा होगा।

गोबर धन योजना के उद्देश्‍य

  • ग्रामीण नागरिकों के जीवन स्‍तर को बेहतर बनाना
  • स्‍वच्‍छ भारत अभियान को बढ़ावा देना
  • योजना के माध्‍यम से किसानों की आय मे बढ़ोतरी करना
  • चुने गए जिलो मे शिक्षा, बिजली, सिंचाई की सुविधा उपलब्‍ध कराना
  • योजना का मुख्‍य आशय गोबर और बेकार ठोस पदार्थ से खाद बनाना है |

गोबर धन योजना के लाभ

  • इस योजना के लागू होने के बाद किसानों की आय मे वृद्धि
  • जिससे किसानों आर्थिक स्‍थिति सुधरेगी
  • किसानो के खेतो के बेकार ठोस पदार्थ का उपयोग रूप मे होगा और साथ ही आय भी होगी
  • इस योजना के तहत पैदा होने वाले बायोगैस के उपयोग किसान ऊर्जा के रूप मे कर सकेगे
  • बचे गोबर का उपयोग खाद के रूप मे किया जा सकता है |

इस योजना के अंतर्गत किसान और पशुपालको द्वारा अपने पशुओं के मल एवं खेतो के बेकार घास के उपयोग द्वारा बायोगेस और खाद बनाकर उसे अपनी कमाई का जरिया बना सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.